कौन है 63 बच्चों की मौत का जिम्मेदार ?

Amit Raj Singh
11 साल की वंदना, 3 साल की शालू,10 महीने का आदर्श इन्हीं सब के बीच कुछ और बच्चे भी है, जिनकी उम्र क्या बताऊ?  7 दिन, 15दिन और शायद 20दिन के इन मासूमों का तो अभी नाम भी नहीं रखा गया था। इन बेनाम बच्चों की माँ की रोती, बिलखती और कौंधती आंखों में उन सपनों की चिता सजती दिख रही है जो कुछ पल पहले उसके लिए तमाम सुनहरे ख़्वाब रच रहे थे।
बीते 5दिनों में 60 से ज्यादा बच्चों की मौत पर स्वास्थ्य मंत्री जी प्रेस कॉन्फ्रेंस में पन्नों के ज़खीरों से सभी मौतों को स्वाभाविक बताने में जुट गए है। वही योगी साहब मीडिया की तल्ख़ी और वक़्त की नज़ाकत को समझतें हुए मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल और बालरोग के विभागाध्यक्ष को बर्ख़ास्त कर चुके है। दरअसल कहीं ना कही, दोनों बातों के बीच अंतर्विरोध को समझना होगा और ध्यान रखिएगा सत्तापक्ष महोदय, सपा के अन्तर्विरोध की आँच से ही आपका सियासी पुलाव पका है। समय से चेत जाइये वरना 5साल की सत्ता सैफई महोत्सव की चाँदनी की तरह कब बेरंग,बेसुर और फीकी पड़ जाएगी, पता भी नहीं चलेगा ।
कई बहनें पहली बार आये नन्हें भाई की कलाई में राखी बांधने के लिए उसके अस्पताल से लौटने का इंतज़ार कर रहीं थी पर उसके पापा ने उसे दबे मन से समझाया कि बिटिया होनी को यही मंजूर था, पर शायद वो पिता भलीभाँति जानता है कि “इस होनी को होने के लिए मजबूर किया गया था” काश उस बहन की राखी की डोर, मोटी सी रस्सी बनकर आपके गले मे डाली जाएं और महसूस कराया जाएं कि ‘घुटन क्या होती है’ ?
इसी बीच अखिलेश भैया मांग करते है, 20-20 लाख मुआवजा दिलवाने की, वो सब तो ठीक है पर 63 लाख की वो रक़म कब चुकाई जाएगी जिसके भुगतान हेतु कंपनी ने कई दरख़ास्त भेजी और अंततः सप्लाई रोक दी। दो चार स्मार्ट सिटी नहीं बनती है तो ना बने, बुलेट ट्रेन सरपट सफर ना कराए तो ना सही, इतना भव्य हाई कोर्ट ना रहे तो भी चलेगा पर मात्र 63 लाख की वजह से देश के मासूम मरते रहे तो शर्म आती है ख़ुद पर और अच्छे दिन वाले भारत पर।
Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s